पूर्व सीएम महबूबा मुफ़्ती का आरोप: अमित शाह के दौरे के कारण मुझे घर में नज़रबंद किया गया

पूर्व सीएम महबूबा मुफ़्ती का आरोप: अमित शाह के दौरे के कारण मुझे घर में नज़रबंद किया गया

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने राज्य सरकार पर आरोप लगाया है कि गृहमंत्री अमित शाह के दौरे के कारण घर में नज़रबंद किया गया है। हालांकि पुलिस ने महबूबा मुफ़्ती के इन आरोपों का खंडन किया है।

बात दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे हैं। वे आज श्रीनगर में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ सुरक्षा समीक्षा बैठक करेंगे तथा आज ही कश्मीर घाटी के बारामुला में जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

महबूबा मुफ़्ती के आरोपों पर श्रीनगर पुलिस ने कहा है कि पुलिस की तरफ से पूर्व सीएम महबूबा मुफ़्ती के यहां कोई ताला या प्रतिबंध नहीं लगाया है। वह यात्रा करने के लिए स्वतंत्र है।

इससे पहले महबूबा मुफ़्ती ने ट्वीट कर एक फोटो शेयर की। इस फोटो में उन्होंने दरवाजे पर लगे ताले को दर्शाते हुए लिखा, ‘ आज गृह मंत्री कश्मीर में सामान्य स्थिति की बात कर रहे हैं। मैं केवल एक कार्यकर्ता की शादी के लिए पट्टन जाने के लिए घर में नजरबंद हूं। अगर एक पूर्व सीएम के मौलिक अधिकारों को इतनी आसानी से निलंबित किया जा सकता है, तो कोई आम आदमी की दुर्दशा की कल्पना भी नहीं कर सकता है।”

महबूबा मुफ़्ती के ट्वीट को रीट्वीट कर जबाव देते हुए श्रीनगर पुलिस ने लिखा, ‘ ‘यह स्पष्ट किया जाता है कि पट्टन के लिए किसी भी प्रकार की यात्रा पर कोई प्रतिबंध नहीं है। हमें दोपहर एक बजे पट्टन जाने के लिए सूचित किया गया है। उनके (महबूबा मुफ्ती) द्वारा ट्वीट की गई तस्वीर गेट के अंदर की है, जिसमें बंगले में रहने वाले निवासियों ने अपना ताला लगाया है। पुलिस की तरफ से कोई ताला या प्रतिबंध नहीं लगाया है। वह यात्रा करने के लिए स्वतंत्र है।’

ये भी पढ़ें  आग से ना खेलें...', Amit Shah, CAA को लेकर ममता बनर्जी का ये बयान इतना शुर्खियो में क्यों?

इस पर महबूबा मुफ़्ती ने जबाव में लिखा कि मुझे बीती रात एसपी बारामूला ने सूचना दी थी कि मुझे पट्टन जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। आज जम्मू कश्मीर पुलिस ने गेट को भीतर से बंद किया है और अब वे झूठ बोल रहे हैं। दुख की बात है कि कानून को लागू करने वाली एजेंसियां इस बात को छिपाने की कोशिश कर रही हैं।