अगर सीने में होता है दर्द तो करो ये समाधान।

अगर सीने में होता है दर्द तो करो ये समाधान।

आपको बता दें कि अगर आपके सीने में दर्द होता है तो आपको हार्ड अटैक आ सकता है। इसका सबसे मुख्य लक्षण यह है। अगर किसी आदमी सीने के हिस्से  एवं बाजू में बहुत तेजी से दर्द होता है और दर्द के साथ साथ हैं पसीना भी आता है और आप को ऐसा लग रहा है कि इस दर्द में मेरी जान भी जा सकती है तो समझ लीजिए कि यह लक्षण आपको 90% दिल की बीमारी की तरफ ले जा रहा है।अमूमन आदमी के सीने में दो तरह का दर्द होता है।

इसमें एक प्रकार का गैस का भी दर्द हो सकता है और दूसरा हार्ट का भी हो सकता है। अगर हर्ट का दर्द होता है तो इसका मुख्य कारण होता है आदमी के खून में कोलेस्ट्रॉल का बढ़ जाना। कोलेस्ट्रोल के कारण आदमी का खून गाढ़ा हो जाता है जोकि धीरे धीरे दिल  की नसों में जमने लगता है और 1 दिन ऐसा आता है कि यह कोलेस्ट्रॉल इतना जम जाता है कि दिल की नसों को बंद कर देता है जिससे कि आदमी का दिल खून की सप्लाई शरीर को नहीं दे पाता और आदमी की मौत हो जाती है। इसमें सबसे बड़ा सवाल यह पैदा होता है कि आदमी कैसे पता करें की उसके सीने में गैस का दर्द है या फिर दिल का दर्द है।

गैस के दर्द के लक्षण

कभी-कभी आदमी के सीने में गैस का दर्द भी होता है। जिसमें वह यह सुनिश्चित नहीं कर पाता कि वह दिल का दर्द है या फिर गैस का,

1- दर्द का दर्द का अस्थिर होना

गैस का दर्द कभी भी आदमी को एक जगह पर नहीं होता है। वह कुछ देर तक एक स्थान पर रहता है तो कुछ देर बाद दूसरी जगह पर चला जाता है और इसमें आदमी को ऐसा एहसास होता है जैसे कि आदमी के सीने में सुई या पिन चूबा दिया हो और यह दर्द सीने से होता हुआ आदमी के सर तक भी जा सकता है।

2- चक्कर आना जी मिचलाना

अगर आदमी को गैस का दर्द होता है तो उसको चीनी चला सकता है उल्टी हो सकती हैं। यह दर्द ज्यादा कर दो 4 मिनट के लिए होता है।

ये भी पढ़ें  आज चितौड़गढ़ के पहले जौहर की वीरांगनाओं को याद करें।

हार्ट में दर्द के लक्षण

1- सीने में बाई और दर्द होना

यह दर्द आदमी के सीने में बाय तरफ होता है और यह ज्यादातर बाय बाजू से होता हुआ आदमी के सीने तक आता है। इसमें दर्द की शिद्दत बहुत ज्यादा होती है इसमें दर्द के साथ-साथ आदमी को बहुत तेजी के साथ पसीना भी आता है।

2- तेज चलने या दौड़ने पर ज्यादा होता है

दिल का दर्द आदमी को तेज चलने पर या दौड़ने पर या सीढ़ी चढ़ने पर ज्यादा बढ़ जाता है और जैसे ही आदमी अपनी स्पीड कम करता है यह धीरे-धीरे कम हो जाता है। इसके और भी बहुत से कारण हैं

कोलेस्ट्रोल क्या है?

कोलेस्ट्रॉल एक तरह का हमारे खून में पाई जाने वाली चर्बी है जो कि आदमी को जीवित रहने के लिए बहुत ही जरूरी है कोलेस्ट्रॉल आदमी को ताकत देने में एवं सेक्स करने में मदद करता है। अगर यह कोलेस्ट्रॉल एक सीमा के बाहर चला जाता है यानी बढ़ जाता है तो आदमी को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जिससे आदमी को दिल की बीमारी भी हो जाती है। दिल की बीमारी में इसका अहम योगदान होता है अगर किसी आदमी के खून में इसकी मात्रा बढ़ जाती है तो उसको दिल से संबंधित बीमारियां हो जाती है और हार्ट अटैक भी आ सकता है। यह दो प्रकार का होता है

1- गुड कोलेस्ट्रॉल

स्कॉलर स्टॉल को को एच.डी. एल. कोलेस्ट्रॉल के नाम से भी जाना जाता है। यह आदमी के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है यह आदमी के शरीर में खराब कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद भी करते हैं।

2- बैड कोलेस्ट्रॉल

इस कोलेस्ट्रॉल को एल.डी.एल. कोलेस्ट्रॉल के नाम से भी जाना जाता है। यह कोलेस्ट्रॉल आदमी के लिए बहुत ही हानिकारक होता है। इसी की वजह से ज्यादातर आदमी को दिल की बीमारियों का सामना करना पड़ता है।