न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे में टीम इंडिया की करारी हार के कारण ?

न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे  में टीम इंडिया की करारी हार के कारण ?

Ind vs NZ ODI: न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे इंटरनेशनल में टीम इंडिया की लगातार पांचवीं हार…! कीवी कप्तान केन विलियमसन और विकेटकीपर टॉम लैथम ने चौथे विकेट के लिए नाबाद 221 रन जोड़कर हिंदुस्तान को 7 विकेट से करारी शिकस्त दी। हार बड़ी है और इसके कारणों पर विस्तृत जानकारी आप यहां पढ़ सकते हैं। भारतीय टीम ने 88 रनों पर न्यूजीलैंड के 3 विकेट गिरा दिए थे।

यहां से लग रहा था कि हमारे गेंदबाज शिकंजा कसेंगे लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। पता है, इसकी सबसे प्रमुख वजह क्या रही? जवाब है मिसफील्ड। बचपन से क्रिकेट कोच सिखाते हैं कि कैच छोड़ोगे तो मैच छोड़ोगे। पर लगता है कि टीम इंडिया के कुछ खिलाड़ी इस बात को किसी भी सूरत में मानने को तैयार नहीं हैं।

सबसे पहले युजवेंद्र चहल ने फिन एलन का आसान सा कैच टपकाया। 8वें ओवर की दूसरी गेंद शार्दुल ने लेंथ बॉल डाली। फिन एलन ने ऑन साइड में बड़ा शॉट खेलना चाहा लेकिन बल्ले का मुंह जल्दी बंद कर दिया। बॉल कुछ देर तक हवा में रही लेकिन शॉर्ट मिडविकेट पर खड़े चहल आसान सा कैच नहीं पकड़ सके। इसके बाद वह निराशा में जमीन पर लेट गए।

हालांकि 2 गेंद बाद ही ऐलन 22 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद कप्तान शिखर धवन ने केन विलियमसन का कैच तब छोड़ा, जब वह 68 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे। परिणाम रहा कि उन्होंने नाबाद 94 रन बनाकर टीम को जीत दिला दी।

इसके अलावा विकेटकीपिंग में ऋषभ पंत ने भी काफी रन बाय के तौर पर दिए। शार्दुल ठाकुर की तो बात ही निराली है। ऐसा लगता है कि मानो उन्होंने हर मुकाबले में मिसफील्ड करने का ठेका ले रखा है। उमरान मलिक अपने डेब्यू वनडे मुकाबले में शानदार गेंदबाजी कर रहे थे। 23वें ओवर में उनकी गेंद पर टॉम लैथम ने कट शॉट खेला।

ये भी पढ़ें  बांग्लादेश के खिलाफ भारत का टूटा भ्र्म! भारत 5 रनों से मुकाबला हार गया.

गेंद सीधा थर्ड मैन के हाथों में गई लेकिन शार्दुल के घटिया फील्डिंग एफर्ट के कारण बल्लेबाज को चौका मिल गया। ओवर की अंतिम गेंद भी उसी दिशा में गई और फिर एक दफा शार्दुल की साधारण फील्डिंग ने कीवी बल्लेबाज को चौके का तोहफा दे दिया। किसी नए गेंदबाज का अगर टीम में कुछ इस तरीके से स्वागत किया जाए तो सोचिए उस पर क्या बीतेगी।

मिसफील्ड को छोड़ भी दें तो शार्दुल ने रही सही कसर 40वें ओवर में पूरी कर दी। इस ओवर में उन्होंने 25 रन दिए। यहीं से मोमेंटम पूरी तरह न्यूजीलैंड की तरफ शिफ्ट हो गया। 40वें ओवर की शुरुआती 5 गेंदों पर टॉम लैथम ने 1 छक्का और 4 चौका जड़ा। मतलब 5 बॉल पर ही शार्दुल ने 22 रन लुटा दिए। साथ में 2 वाइड और अंतिम गेंद पर सिंगल के साथ लैथम का शतक पूरा…! इस ओवर के बाद न्यूजीलैंड के खिलाड़ी खेलने की बजाय खिलवाड़ करने पर उतर आए।

गेंदबाजों की बात करें तो अर्शदीप ने बगैर विकेट चटकाए 8.1 ओवर में 63 रन दिए। युजवेंद्र चहल ने 10 ओवरों में कैच टपकाने के अलावा बिना विकेट लिए 67 रन लुटाए। शार्दुल ठाकुर ने 9 ओवरों में 63 रन देकर 1 विकेट लिया। ये अलग बात है कि उन्होंने अपनी फील्डिंग से टीम का बहुत नुकसान किया। कुल मिलाकर उमरान मलिक ने डेब्यू मैच में 10 ओवरों में 66 रन देकर 2 विकेट चटकाए। अगर उनकी गेंदों पर मिसफील्ड नहीं होते तो हालात दूसरे हो सकते थे।