133.5 ओवर्स में भारत 404/10…! जवाब में बांग्लादेशी बल्लेबाज निकले फुस

133.5 ओवर्स में भारत 404/10…! जवाब में बांग्लादेशी बल्लेबाज निकले फुस

133.5 ओवर्स में भारत 404/10…! जवाब में बांग्लादेशी बल्लेबाज शंतो सिराज की पहली ही गेंद पर कैच आउट। भारत और बांग्लादेश के बीच खेले जा रहे चट्टोग्राम टेस्ट के दूसरे दिन की शुरुआत में टीम इंडिया ने 86 के निजी स्कोर पर श्रेयस अय्यर को गंवा दिया।

पहले दिन टीम इंडिया ने 90 ओवर के बाद 278 रन बनाए थे और 6 विकेट गंवाए थे। श्रेयस अय्यर 82 पर नाबाद वापस आए थे। श्रेयस के आउट होने के बाद अश्विन और कुलदीप यादव ने मिलकर 92 रनों की पार्टनरशिप की। अश्विन के 13वें टेस्ट अर्धशतक की बदौलत भारत ने 400 का आंकड़ा पार किया।

पहले दिन 77* के स्कोर पर इबादत हुसैन की गेंद पर श्रेयस बोल्ड हो गए थे लेकिन तब बेल्स नहीं गिरने के कारण उन्हें नॉटआउट करार दिया गया था। 98वें ओवर की अंतिम गेंद इबादत ने श्रेयस के खिलाफ आउटसाइड ऑफ ड्रॉप करा कर अंदर की तरफ एंगल के साथ डाली। यहां पर श्रेयस के पैर बिल्कुल नहीं हिले।

शायद उन्हें शॉर्ट बॉल का अंदेशा था और इसलिए गेंद बल्ले के बाहरी किनारे को बीट करते हुए ऑफ स्टंप से जा टकराई। इसी के साथ 293 के स्कोर पर भारत को सातवां झटका लगा। इसके बाद अश्विन ने 58 और कुलदीप यादव ने 40 रन बना दिए।

बताते चलें कि पहले दिन भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। बतौर ओपनर कप्तान के एल राहुल और शुभमन गिल मैदान पर आए। मुकाबले से पहले ही राहुल ने कहा था कि हम लोग बैज बॉल अंदाज में क्रिकेट खेलेंगे। यानी बांग्लादेशी गेंदबाजी को मारकर तोड़ देंगे।

उम्मीद थी कि गिल भी ईशान की तरह तूफानी अंदाज दिखाएंगे। पर राहुल का बैज बॉल अंदाज और गिल की तूफानी बल्लेबाजी, दोनों ही नजर नहीं आए।

14वां ओवर लेकर लेफ्ट आर्म ऑर्थोडॉक्स स्पिनर तैजुल इस्लाम सामने थे। ओवर की दूसरी गेंद वाइड ऑफ द क्रीज राउंड द विकेट इन ड्रिफ्टर ऑन लेग। गेंद आने से पहले ही शुभमन ने तय कर लिया था कि वह पैडल स्वीप खेलेंगे। बल्ले का टॉप एज और फर्स्ट स्लिप के फील्डर यासिर अली का लेग स्लिप में आसान सा कैच।

ऐसा लगा कि गिल ने यह शॉट अधूरे मन से खेला था। 41 के स्कोर पर भारत को पहला झटका लगा। गिल 40 गेंदों पर 20 रन बनाकर अपने प्रशंसकों का दिल तोड़ कर चले गए।

इसके बाद 19वां ओवर लेकर आ चुके थे खालिद अहमद। पहली गेंद शॉर्ट ऑफ लेंथ डिलीवरी आउटसाइड ऑफ स्टंप। राहुल ने ऑफ साइड में स्क्वायर कट खेलने के लिए बल्ला हवा में खड़ा कर दिया। बल्ले का किनारा लेती हुई गेंद सीधा विकेट पर। इसके बाद गुस्से में केएल राहुल ने ग्लव्स से बल्ले पर करारा प्रहार किया।

दरअसल इसके पहले बांग्लादेश ने स्लिप हटाकर लगातार राहुल को विकेट टू विकेट गेंदबाजी की और अंत में सफलता हासिल कर ली। गेंद तो चौके वाली थी लेकिन मिल विकेट गया। राहुल के बल्ले से 54 गेंदों पर 22 रन निकले।

ये भी पढ़ें  नाम....मोहम्मद सिराज। काम... साल 2022 से अबतक ODI में सबसे ज्यादा...

20वें ओवर में फिर एक दफा हाजिर थे स्पिनर तैजुल इस्लाम और अबकी बार सामने थे विराट कोहली। ओवर की तीसरी गेंद शॉर्ट बॉल थी और इसलिए विराट बैकफुट पर जाकर इसे लेग साइड में खेलना चाह रहे थे। पर टप्पा खाते ही गेंद काफी घूमी और सीधा विराट के बैक पैड से जा टकराई।

इतना टर्न आमतौर पर मैच के तीसरे-चौथे दिन नजर आता है लेकिन चट्टोग्राम की विकेट पर पहले ही दिन स्पिनर्स के लिए काफी मदद देखी गई। इसी का नतीजा है कि भारत मुकाबले में तीन स्पिनर्स के साथ उतरा है। भारत को 48 पर तीसरा झटका लगा और विराट कोहली 1 रन बनाकर पवेलियन लौट गए।

इसके बाद भारतीय टेस्ट टीम के मौजूदा उपकप्तान पुजारा और भूतपूर्व उपकप्तान पंत ने मिलकर 64 रनों की पार्टनरशिप की। लगा कि ऋषभ पंत लंबे वक्त के बाद खराब फॉर्म से निकल जाएंगे। पर 32वें ओवर की तीसरी गेंद पर मेहंदी हसन मिराज ने ऋषभ के हाथों छक्का खाया और अगली गेंद पर उन्हें बोल्ड कर दिया।

दरअसल उस गेंद पर ऋषभ को फ्रंट फुट से खेलना चाहिए था लेकिन वह बैकफुट से खेल गए और उन्होंने ऑफ साइड में शॉट खेलने के लिए पहले ही थोड़ी जगह बना ली थी। बल्ले के निचले हिस्से से लगकर गेंद विकेट पर चली गई। ऋषभ 45 गेंदों पर 46 रन बनाकर आउट हो गए।

112 के स्कोर पर भारत को चौथा झटका लगा। यहां से टीम इंडिया बड़ी मुश्किल में फंस सकती थी लेकिन चेतेश्वर पुजारा और श्रेयस अय्यर ने मिलकर बांग्लादेशी गेंदबाजी की धज्जियां उड़ा कर रख दीं। दोनों ही बल्लेबाजों ने गजब का संयम दिखाया। पुजारा का शतक निश्चित लग रहा था लेकिन वह 203 गेंदों पर 90 रन बनाकर तैजुल इस्लाम की गेंद पर बोल्ड हो गए।

तैजुल के 85वें ओवर की दूसरी गेंद रिपर थी और ऑफ स्टंप के लाइन से घूम गई। गेंद फ्लैट थी और पुजारा एंगल के लिए खेल बैठे। बॉल ऑफ स्टंप से जा टकराई। दूसरे छोर पर श्रेयस अय्यर चट्टान की तरह डटे थे और लगा कि अक्षर अंत तक श्रेयस का साथ निभा जाएंगे।

पर पहले दिन की अंतिम बॉल…! मेहदी हसन मिराज ने ऑफ स्टंप के आस पास आर्म बॉल डाली, जो स्किड करते हुए अक्षर के बैक पैड से जा टकराई। अक्षर पटेल 26 गेंदों पर 14 रन बनाकर आउट हुए। दूसरे दिन की शुरुआत में श्रेयस अय्यर के आउट होने के बाद कुलदीप यादव और आर. अश्विन ने मोर्चा संभाल लिया। नतीजा भारत 400 के पार चला गया।