अमेरिका में हिंदू संगठनों के विरुद्ध प्रस्ताव पारित

अमेरिका में हिंदू संगठनों के विरुद्ध प्रस्ताव पारित

वाशिंगटन। अमेरिका के न्यूजर्सी में हाल ही में टीनेक डेमोक्रेटिक म्यूनिसिपल कमेटी (TDMC) के नेता के नेतृत्व में हिंदू संगठनों के खिलाफ एक प्रस्ताव पारित किया गया है।

दैनिक भास्कर की एक खबर के मुताबिक, इस प्रस्ताव में विश्व हिंदू परिषद, सेवा इंटरनेशनल और हिंदू स्वयंसेवक संघ समेत 60 संगठनों पर आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। TDM डेमोक्रेटिक पार्टी से जुड़ी पार्टी है। टीनेक डेमोक्रेटिक म्यूनिसिपल कमेटी (TDMC) के प्रस्ताव में लिखा है कि ये संगठन भारत और अमेरिका में अल्पसंख्यकों के खिलाफ नफ़रत फैलाने का काम कर रहे हैं। दो डेमोक्रेटिक सांसदों को अमेरिका में सक्रिय हिंदू संगठनों की फंडिंग की जांच करने को भी कहा गया है।

अमेरिका में पिछले दो महीने में हुईं घटनाओं को लेकर हिंदू विरोधी लोगों ने इन संगठनों पर निशाना साधा था। दरअसल भारतीय स्वतंत्रता दिसव के मौके पर अमेरिका में कई जगहों पर परेड में बुलडोजर को उपलब्धियों का प्रतीक बताने की कोशिश की गई थी।

कई अमेरिकी संगठनों ने इसे बंटवारे और नफरत का प्रतीक बताकर उसकी आलोचना शुरू कर दी थी। इसके बाद राजनीतिक और सामाजिक संगठनों ने अमेरिका में होने वाले साध्वी ऋतंभरा के कार्यक्रम का विरोध शुरू किया जिसके कारण कार्यक्रम को रद्द करना पड़ा।

इस प्रस्ताव के पारित होने के बाद अमेरिका के कई राज्यों में 60 से ज्यादा हिंदू संगठन, डेमोक्रेटिक सरकार के खिलाफ उतर आए हैं। अमेरिका के हिंदू संगठनों का कहना है कि इस प्रस्ताव में हिंदू संगठनों के बारे में बेहद आपत्तिजनक बातें की गई हैं। जबकि, इस प्रस्ताव को पेश करते समय हमें अपनी बात रखने का मौका ही नहीं दिया गया। प्रस्ताव एकतरफा सोच के तहत पारित कर दिया गया, जो कि नैतिक रूप से गलत है।

ये भी पढ़ें  हिजाब मामले में फ़्रांस को संयुक्त राष्ट्र की फटकार