बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022: निकहत ज़रीन ने मुक्केबाजी में भारत को दिलाया गोल्ड मेडल

बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022: निकहत ज़रीन ने मुक्केबाजी में भारत को दिलाया गोल्ड मेडल

नई दिल्ली। बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के 10वे दिन भारत के लिए ख़ास रहा और आज कई खेलो में शानदार प्रदर्शन करते हुए मेडल का आंकड़ा 47 तक पहुँच गया। इसमें 17 गोल्ड मेडल शामिल हैं।

पहलवानी में भारत के खाते में सबसे ज्यादा गोल्ड मेडल आये हैं.भारतीय पहलवानों ने हर वर्ग में अपना परचम लहराया है। वहीँ महिला हॉकी टीम ने पहली बार राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीता है। हालांकि महिला टीम को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। कॉमनवेल्थ में पहली बार महिला क्रिकेट को शामिल किया गया है। महिला क्रिकेट टीम फाइनल में पहुंच गई है।

भारत की महिला मुक्केबाज निकहत जरीन ने गोल्ड मेडल जीत लिया है। विश्व चैम्पियन निकहत ने रविवार को यहां राष्ट्रमंडल खेलों की लाइट फ्लाईवेट (48-50 किग्रा) स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता।

भारत के अनुभवी टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंता शरत कमल और जी साथियान ने राष्ट्रमंडल खेलों की पुरुष युगल स्पर्धा में रजत पदक जीता जबकि श्रीजा अकुला महिला एकल में कांस्य पदक से चूक गयी। शरत कमल और साथियान को इंग्लैंड के पॉल ड्रिंकहाल और लियाम पिचफोर्ड ने बेहद रोमांचक मुकाबले में 3-2, 8-11, 11-8, 11-3, 7-11, 11-4 से हराकर स्वर्ण पदक जीता।

मुक्केबाज अमित पंघाल और नीतू गंघास ने देश को रविवार को स्वर्ण पदक दिलाये जबकि भारतीय महिला हॉकी टीम ने कांस्य पदक जीता। पुरुषों की ट्रिपल जंप में, भारत ने शीर्ष दो पदक जीते हैं। सौजन्य एल्धोस पॉल (स्वर्ण के लिए 17.03 मीटर कूद) और अब्दुल्ला अबूबकर नारंगोलिंटेविद (रजत के लिए 17.02 कूद) ने ये पदक जीते हैं।

ये भी पढ़ें  RCB की ऐतिहासिक जीत, प्लेऑफ के करीब, हैदराबाद को 67 रनों से धोया

वहीँ पुरुषों की 10 किमी दौड़ में, संदीप कुमार ने भारत के लिए कांस्य पदक जीता है। इस बीच, भारतीय शटलर लक्ष्य सेन ने बैडमिंटन पुरुष एकल के फाइनल में प्रवेश कर लिया है।

इससे पहले अमित पंघाल ने पुरूषों की फ्लाईवेट (48-51 किग्रा) स्पर्धा में शानदार प्रदर्शन के बूते कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत को 15वां गोल्ड मेडल दिलाया। उन्होंने फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड के बॉक्सर मैकडोनल्ड कियारान को हराया।