एशिया कप में मिली शर्मनाक हार का जिम्मेदार अब आया सामने, जानिए

एशिया कप में मिली शर्मनाक हार का जिम्मेदार अब आया सामने, जानिए

भारत में क्रिकेट खिलाड़ियों को भगवान की तरह पूजा जाता है। इन्हें हर सुविधा दी जाती है। बदले में इनसे बड़े टूर्नामेंट्स में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद की जाती है। पर बीते कुछ वर्षों में देखा गया है कुछ खिलाड़ियों को छोड़कर बाकी सब ऐन मौके पर पीठ दिखा जाते हैं। बड़ी प्रतियोगिताओं में शर्मनाक हार के साथ देश वापस आते हैं। करोड़ों क्रिकेट प्रेमियों को खून के आंसू रुलाते हैं।

इस बार जब एशिया कप के लीग स्टेज में भारत ने पाकिस्तान को 5 विकेट से हराया तो सब ठीक-ठाक लग रहा था। इसी बीच किसी एडवेंचर स्पोर्ट्स में भाग लेने के लिए बगैर किसी को बताए रवींद्र जडेजा चले गए। घुटना मुड़ा और परिणाम जडेजा टी-20 वर्ल्ड कप तक से बाहर हो गए। इतनी बड़ी टीम में किसी को पता नहीं चला कि उसका दिग्गज ऑलराउंडर क्या गुल खिला रहा है। भारत की एशिया कप जीतने की उम्मीदों को मिट्टी में मिला रहा है। जडेजा के ना होने से मिडिल आर्डर का बैलेंस बिगड़ गया। सुपर 4 में श्रीलंका और पाकिस्तान के खिलाफ भारत कमजोर पड़ गया।

पहले मैच से ही नजर आ रहा था केएल राहुल का बल्ला आउट ऑफ फॉर्म चल रहा है। उसकी जगह विराट कोहली का बल्ला आग उगल रहा है। ऐसे में विराट को ओपनिंग करवाते हुए राहुल को ड्रॉप करने से परहेज नहीं किया जाना चाहिए था। बदले में दिनेश कार्तिक को प्लेइंग इलेवन में मौका दिया जाना चाहिए था। डीके जैसे वर्ल्ड क्लास फिनिशर को बेंच पर बैठा कर इंडियन टीम मैनेजमेंट ने बहुत गलत किया। एशिया कप में फतह हासिल करने की उम्मीदों को औंधे मुंह पलट दिया।

ये भी पढ़ें  विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने के बाद अनुष्का शर्मा ने की इमोशनल पोस्ट, कहाधोनी- विराट से शुरू, बेटी वामिका पर खत्म।

चयनकर्ताओं ने भी टीम इंडिया की लुटिया डुबाने में जान लगा दी। जसप्रीत बुमराह के चोटिल होने के बावजूद मोहम्मद शमी को टीम में मौका नहीं दिया। भारत के कमजोर पेस अटैक पर विरोधी बल्लेबाजों ने जमकर प्रहार किया। पावरप्ले में शुरुआती विकेट हासिल करने के लिए टीम इंडिया तरसती नजर आई। सुपर 4 के अहम मुकाबले में श्रीलंका की ओपनिंग जोड़ी ने भारत के 173 के टारगेट के सामने 97 रनों की ताबड़तोड़ पार्टनरशिप बनाई।

हांगकांग के खिलाफ 360 डिग्री शॉट्स खेलने वाले सूर्य कुमार यादव का बल्ला बड़ी टीमों के सामने बिल्कुल नहीं बोला। सुपर 4 में पाक और श्रीलंका के खिलाफ महत्वपूर्ण दोनों मुकाबलों में सूर्या ने किसी गेंदबाज का धागा नहीं खोला। ऋषभ पंत के बारे में कुछ नहीं ही कहा जाए तो बेहतर है। उर्वशी रौतेला के बारे में सोशल मीडिया पोस्ट करना ही फिलहाल उसका फेवरेट चैप्टर है।

चयनकर्ताओं से लेकर कप्तान और कोच की गलत रणनीति एशिया कप में भारत के शर्मनाक प्रदर्शन के लिए जिम्मेदार है। इसी का परिणाम है कि आज देश में हार का हाहाकार है।