शर्मनाक हार के बाद देश खून के आंसू न रोता, अगर एशिया कप में मोहम्मद शमी होता!

शर्मनाक हार के बाद देश खून के आंसू न रोता, अगर एशिया कप में मोहम्मद शमी होता!

नई दिल्ली: Asiacup 2022 में सबको पता था कि यूएई की विकेट्स पर शुरुआत में तेज गेंदबाजों को फायदा मिलेगा। ऐसे में जसप्रीत बुमराह दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से चोटिल हो गए तो लगा कि कम से कम अनुभवी गेंदबाज शमी नैया पार लगाएंगे। अपनी धारदार बॉलिंग के बूते टीम इंडिया को एशिया कप जिताएंगे।

पिच के हालात से वाकिफ होते हुए भी मोहम्मद शमी को टीम इंडिया में शामिल नहीं किया गया। बीसीसीआई और चयनकर्ताओं के द्वारा बेहद गलत फैसला लिया गया। परिणाम हुआ कि हम पाकिस्तान और श्रीलंका जैसी कमजोर टीमों से सुपर 4 में हार गए। बहुत शर्मनाक तरीके से एशिया कप से बाहर हो गए।

शमी की स्विंग और पेस इंडियन टीम के बहुत काम आती । उनकी खौफनाक बॉलिंग भारत को मुश्किल हालात में भी मैच जिताती। चयनकर्ताओं के गलत निर्णय का परिणाम रहा कि शमी और टीम इंडिया का साथ छूट गया। एशिया कप जीतने का सवा सौ करोड़ देशवासियों का ख्वाब टूट गया।

अब अगर टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में जीतना है तो शमी को हर हाल में टीम इंडिया में लिया जाना चाहिए। पावरप्ले के दौरान उसे गेंदबाजी का अवसर दिया जाना चाहिए। जो शमी नई नवेली टीम गुजरात लायंस को पहले ही सीजन के 16 मैच में 20 विकेट लेकर आईपीएल जिता सकता है, वह टीम इंडिया के लिए भी कहर बरपाएगा। भारत को दूसरी बार टी-20 वर्ल्ड कप जिताएगा।

कोई बॉलर नहीं पूरी कर सकता उसकी कमी
भारत का स्टार तेज गेंदबाज है मोहम्मद शमी

ये भी पढ़ें  रोहित- प्लेइंग 11 चुनना आसान नहीं, कोहली लय में