T-20 वर्ल्ड कप में गेंदबाजों की लगाएगा वाट अगर ये खिलाड़ी करेगा ओपनिंग

T-20 वर्ल्ड कप में गेंदबाजों की लगाएगा वाट अगर ये खिलाड़ी करेगा ओपनिंग

नई दिल्ली: T20 worldcup: एशिया कप भारत के लिए बदतर रहा लेकिन आखिरी मुकाबले में किंग कोहली ने नाबाद शतक लगाया। 1020 दिनों के लंबे इंतजार के बाद विराट का 71 वां शतक आया। ऐसे में सवाल खड़ा हो रहा है ओपनिंग करते हुए किंग कोहली ने जिस तरह शतकीय प्रहार किया, क्या वह T-20 वर्ल्ड कप में भी भारतीय पारी की शुरुआत करने का सबसे बड़ा दावेदार है? करोड़ों चाहने वालों को विराट को वर्ल्ड कप में बतौर ओपनर देखने का इंतजार है।

2022 में केएल राहुल ने भारत के लिए 5 T-20 मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने 26.40 की खराब औसत से केवल 132 रन बनाए हैं। ये रन 122 की स्ट्राइक रेट से आए हैं। वहीं अगर किंग कोहली की बात करें तो इस साल अब तक उन्होंने भारत के लिए 9 टी-20 मुकाबलों में जलवा दिखाया है। इस दौरान विराट ने 143 की स्ट्राइक रेट और 51 के बेहतरीन औसत से 357 रन बनाया है। किंग ने तमाम दिग्गज गेंदबाजों को मारकर पूरा गर्दा उड़ाया है।

टीम इंडिया के लिए राहुल ने अपने करियर के 43 टी-20 मुकाबलों में ओपनिंग का जिम्मा संभाला है। इस दौरान 138 की स्ट्राइक रेट और 38 की औसत से राहुल के बल्ले से 1524 रन निकला है। विराट ने टीम इंडिया के लिए सिर्फ 9 बार ओपनिंग किया है लेकिन उस दौरान किंग का बदला 161 की स्ट्राइक रेट से गरजा है। इस दौरान 57.14 की बेहतरीन औसत से 400 रन बनाने वाले किंग कोहली का पूरी दुनिया में डंका बजा है।

सबको पता है कि आईपीएल के दौरान हर बार केएल राहुल की धीमी बल्लेबाजी के कारण उनकी टीम मुश्किलों में फंसती है। प्लेऑफ के मुकाबलों में राहुल के लचर प्रदर्शन के कारण टीम की हार पर पूरी दुनिया हंसती है। वहीं विराट ने आईपीएल में बेंगलुरु के लिए ओपनिंग करते हुए पांच शतक जड़ा है। दूसरे छोर पर कोई कितनी भी देर टिके, फैंस को सुकून रहता है सीना ठोककर किंग कोहली खड़ा है।

ये भी पढ़ें  अर्शदीप दीपक चहार ने बरपाया कहर, तास के पत्तो की तरह बिखर गई SA टीम

इस बार एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ राहुल का खाता तक नहीं खुला। हांगकांग के खिलाफ 36 रन बनाने में राहुल ने 39 बॉल खेल लिया। यही कारण रहा कि कमजोर टीम के खिलाफ भी पावरप्ले में टीम इंडिया ने घटिया प्रदर्शन किया। श्रीलंका के खिलाफ उनके बल्ले से केवल 6 रन आया। हालांकि जब अफगानिस्तान के खिलाफ किंग कोहली गेंदबाजों का बुखार छुड़ा रहा था तो जरूर राहुल ने भी 62 रन बनाया। 2021 के T20 वर्ल्ड कप में भी राहुल के बल्ले से पाकिस्तान के खिलाफ तीन और न्यूजीलैंड के खिलाफ केवल 18 रन आया था। अपनी घटिया बैटिंग से उन्होंने हिंदुस्तान को विश्व कप से बाहर का रास्ता दिखाया था।

आईपीएल में भी बतौर ओपनर विराट ने 84 मुकाबलों में 135 की स्ट्राइक रेट और 42 की औसत से 2972 रन बनाया है। ऐसे में कोहली की मौजूदा फॉर्म इशारा कर रही है कि विराट को विश्वकप में बतौर ओपनर उतारने का वक्त आया है।