2016 T20 वर्ल्ड कप का महत्वपूर्ण लीग मैच के दौरान बांग्लादेश भारत को..

2016 T20 वर्ल्ड कप का महत्वपूर्ण लीग मैच के दौरान बांग्लादेश भारत को..

2016 टी-20 वर्ल्ड कप का महत्वपूर्ण लीग मैच चल रहा था। बांग्लादेश भारत को हराने के लिए पूरा मचल रहा था। तमाम इंडियन क्रिकेट फैंस का कलेजा मुंह को आ गया था। आखिरी ओवर में बांग्लादेशी मुशफिकुर रहीम नागिन डांस वाला जश्न मनाना भी स्टार्ट कर दिया था। पर दिल से कहीं ना कहीं आवाज आ रही थी कि माही है ना, संभाल लेगा। अंतिम में भी कुछ ना कुछ कमाल करेगा।

आखिरी गेंद पर जीत के लिए 2 रन चाहिए थे और धोनी ने पहले ही कीपिंग ग्लव्स उतार कर फेंक दिए। चाहता तो जगह पर से खड़े-खड़े विकेट पर गेंद मारता और निश्चित ही रनआउट कर देता। लेकिन ऐन मौके पर माही रिस्क नहीं लेना चाहता था। करोड़ों आंखों में हार के आंसू नहीं देना चाहता था। गेंद हाथ में आते ही रनआउट करने के लिए माही दौड़ पड़ा। हाथ में बॉल लिए विकेट उखाड़ दिया। बांग्लादेश की जीत की तमाम उम्मीदों को ठोकर मार दिया। 1 रन से मुकाबला टीम इंडिया के नाम किया।

लगा था कि इस बार श्रीलंका के खिलाफ एशिया कप में पंत भी कुछ ऐसा करेगा। दौड़ कर लंकाई खिलाड़ियों को रन आउट करते हुए समूचे हिंदुस्तान में जीत वाला जोश भरेगा। लेकिन पंत ने दौड़ कर विकेट पर गेंद मारने की बजाय खड़े-खड़े थ्रो मार दिया। बाई में 2 रन दिए और सवा सौ करोड़ देशवासियों की उम्मीदों के चीथड़े फाड़ दिया। एशिया कप जीतने का भूत सबके सर से उतार दिया।

हकीकत यह है कि चाहे कुछ भी कर लो, धोनी जैसा कोई कभी नहीं आएगा! कोई कभी हार के जबड़े से छीनकर भारत को मैच नहीं जिता पाएगा!

ये भी पढ़ें  दक्षिण अफ्रीका vs जिम्बाब्वे लाइव स्कोर, टी 20 विश्व कप 2022 : टेम्बा बावुमा के नेतृत्व वाला एसए ओपन अभियान बनाम ज़िम बेलेरिव में