“गब्बर” धवन को दे रहे यह खिलाड़ी टक्कर, ठोक रहे हैं शतक पर शतक

“गब्बर” धवन को दे रहे यह खिलाड़ी टक्कर, ठोक रहे हैं शतक पर शतक

शिखर धवन को मिल रही है इन खिलाड़ियों से निपटने की चेतावनी ऋतुराज और वेंकटेश अय्यर आ रहे हैं मैदान में


हाल ही के दिनों में चल रहे विजय हजारे ट्रॉफी में एक के बाद एक धुन्दर अपना जलवा दिखा रहा है। इन्हीं में बात करें तो कुछ मशहूर खिलाड़ी भी शामिल है। जो नई उम्र के बल्लेबाज बतौर सलामी बल्लेबाज हैं। यह अपने कैरियर को इस तरह से लेकर चल रहे हैं कि मानो इनके सामने चेतावनी नहीं आती बल्कि खुद मुश्किलें आसान हो जाती हैं। बात करें कि ऋतुराज गायकवाड और वेंकटेश अय्यर, इन्होंने ने अब तक दो और तीन शतक लगा दिए हैं। अय्यर ने इस दौरान कुछ विकेट भी चटकाए हैं क्योंकि वेंकटेश अय्यर एक बतौर ऑलराउंडर जाने जाते हैं और केकेआर में यह बतौर सलामी बल्लेबाज ओपनिंग करने आते हैं। इसलिए लिए इन्हें बल्ले के साथ-साथ गेंद से भी कमाल दिखाने का मौका मिला है।

वही बात करें तो ऋतुराज गायकवाड भी बतौर ओपनर बल्लेबाज हैं यह चेन्नई सुपर किंग के लिए ओपनिंग करने आते हैं भारतीय टीम को चयनकर्ताओं के लिए आने वाले दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले वनडे टीम के लिए सलामी बल्लेबाज शिखर धवन की विजय हजारे ट्रॉफी में खराब परफॉर्मेंस को लेकर चिंता का विषय बन सकता है। लेकिन वहीं पर युवा बल्लेबाज ऋतुराज और वेंकटेश अय्यर का टीम में चुना जाना लगभग तय सा हो गया है। जनवरी में खेले जाने वाले तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) ने पहले ही रोहित शर्मा को इस पूरे प्रारूप का एक बतौर कप्तान नियुक्त कर लिया है लेकिन अभी तक टीम में सभी सदस्यों के होने के नामांकन करने और घोषणा करनी बाकी रह गई है।

यह भी ध्यान रखा जाएगा कि चयनकर्ता 50 ओवर की प्रतियोगिता के लिए बायो बबल्स और अन्य कार्यभार का प्रबंध को ध्यान में रखते हुए कितने खिलाड़ियों को टीम में जगह देते हैं। विजय हजारे ट्रॉफी के मौजूदा सत्र में ऋतुराज वाकाड और वेंकटेश अय्यर ने लगातार दो और तीन शतक लगा दिए हैं। यहीं पर वेंकटेश अय्यर ने इस दौरान कुछ विकेट भी अपने खाते में शामिल कर लिए हैं। इससे यह तो पक्का हो जाता है कि वह टीम के प्रमुख ऑलराउंडर के रूप में हार्दिक पांड्या को पकड़ने के लिए तैयार हैं। यह भी समझा जाता है कि के एल राहुल और रोहित शर्मा की मौजूदगी में सलामी बल्लेबाज के तौर पर वेंकटेश को टीम में जगह मिलना मुश्किल है ऐसे में उन्हें पांचवे या छठे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए फिनिशर की भूमिका निभाने के लिए भी रखा जा सकता है।

ये भी पढ़ें  India-vs-South Africa: फेल हुई भारत की बैटिंग लाइन, 5वां झटका

उन्होंने केरल के खिलाफ चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए मात्र 84 गेंदों में 112 रनों की पारी ठोक डाली थी। फिर पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए मात्र 49 गेंदों में 71 रन बनाकर अपनी टीम में अहम भूमिका निभाई थी और अपने इसी परफॉर्मेंस को बरकरार रखते हुए वेंकटेश अय्यर ने रविवार को 113 गेंदों में 10 छक्कों की मदद से 151 रनों की पारी खेल डाली इस सब परफॉर्मेंस को देखते हुए वेंकटेश अय्यर का दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर जाना पक्का हो सकता है। वह हर मैच में 9 या 10 ओवर गेंदबाजी कर रहे हैं और हार्दिक पांड्या के अस्वस्थ होने के कारण उन्हें टीम में जगह मिलने का अच्छा मौका भी मिल रहा है।

वही बात करें तो महाराष्ट्र के कप्तान ऋतुराज गायकवाड ने आईपीएल की अपनी शानदार फॉर्म को बरकरार रखते हुए विजय हजारे ट्रॉफी में भी अच्छा दम दिखाया और इसी के साथ साथ चयनकर्ताओं की परेशानी को भी बढ़ा दिया है। पिछले श्रीलंकाई दौरे में ऋतुराज गायकवाड ने टी 20 अंतर्राष्ट्रीय दो मैच खेले लेकिन वनडे में उन्हें मौका नहीं मिला। यहां तक कि न्यूजीलैंड के खिलाफ भी तीन मैचों के T20 फॉर्मेट में भी उन्हें जगह नहीं मिली। क्योंकि रोहित शर्मा बतौर ओपनिंग बल्लेबाजी कर रहे थे और इन्हीं का साथ दे रहे के एल राहुल और ईशान किशन सलामी जोड़ीदार थे।


अब तक ऋतुराज गायकवाड ने लगातार मैचों में मध्यप्रदेश के खिलाफ 136 रन छत्तीसगढ़ के खिलाफ 154 रन नाबाद और केरल के खिलाफ एक सौ 24 रन की पारी खेली है जिस को नजरअंदाज करना चयनकर्ताओं के लिए एक चेतावनी होगी दूसरी तरफ बात करें तो शिखर धवन ने इस दौरान 0 1214 और मात्र 8 रन की पारियां खेली हैं कोच राहुल द्रविड़ जिस तरह से टेस्ट मैचों के लिए अजिंक्य रहाणे और ईशांत शर्मा जैसे सीनियर खिलाड़ियों को मौका दे रहे हैं उससे लगता है कि धवन को भी एक और मौका मिल सकता है।

हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *