दर्द से तड़पने के बाद भी लास्ट तक लड़ते रहे नसीम शाह, जीता सभी का दिल

दर्द से तड़पने के बाद भी लास्ट तक लड़ते रहे नसीम शाह, जीता सभी का दिल

Ind vs pak AciaCup 2022: पाकिस्तान के तेज गेंदबाज नसीम शाह ने मैच में लाजवाब बॉलिंग का प्रदर्शन किया। बॉलिंग करते समय उन्होंने सभी क्रिकेट प्रेमियों का दिल जीत लिया क्योंकि उन्होंने अपनी टीम के लिए अंतिम समय तक चोटिल होने के बाद भी दर्द में बोलिंग की, नसीम शाह के पैर में चोट लगने के बावजूद लंगड़ाते हुए अपने आखरी ओवर में खूब दिल से बोलिंग की और उन्होंने इस अंतिम ओवर में रविंद्र जडेजा का विकेट ले ही लिया था। वो तो बॉल पिच आउट हो गई थी जिस के चलते रविंद्र जडेजा बच गए.

लेकिन जिस तरह से उन्होंने बॉलिंग की उससे सभी का दिल जीत लिया। पाकिस्तान के इस तेज गेंदबाज के अंदर जुनून और खेल का जज्बा तो कूट-कूट कर भरा है और जिस खिलाड़ी के अंदर खेल का जुनून और जज्बा भरा हो एक दिन वह दुनिया पर राज करता है। जिस तरह से भारत के पूर्व कप्तान विराट कोहली, विराट कोहली को किंग कोहली की उपाधि मिली हुई है क्योंकि उन्होंने अपने क्रिकेट कैरियर में 7 सालों तक सबसे अच्छा प्रदर्शन किया। कोहली और उनके फैंस के लिए एक खुशखबरी यह है कि वह अपनी फॉर्म में वापसी कर रहे हैं।

नसीम शाह ने कम रन खर्च किए

नसीम शाह ने अपने इस अंतिम ओवर में रविंद्र जडेजा से 1 छक्का खाया लेकिन वह लंगड़ा ते हुए बॉलिंग करते रहे। इस ओवर में उन्होंने ज्यादा रन भी नहीं लुटाए और भारतीय टीम को बांधकर रखा था। इस वजह से हर तरफ क्रिकेट जगत में आज नसीम शाह की तारीफ हो रही है। क्रिकेट के बड़े-बड़े दिग्गज बोल रहे हैं कि जिस तरह से उन्होंने पाकिस्तान के लिए इस हालत में बोलिंग की वह सराहनीय है। आमतौर पर ऐसा देखा गया है कि अगर किसी बॉलर को ऐसी परिस्थिति में चोट लग जाती है या कुछ मांसपेशी में खिंचाव हो जाता है।

ये भी पढ़ें  T20 वर्ल्ड कप से पहले इन 5 दिग्गज खिलाड़ियों की होगी अग्निपरीक्षा

जब मैच पूरी तरह फंसा हुआ हो तो वह तुरंत अपने कप्तान को बुलाकर बोलता है और मैदान से बाहर जाने के लिए कहता है लेकिन नसीम शाह ने ऐसा बिल्कुल भी नहीं किया क्योंकि वह जानते थे कि अगर मैं यह ओवर बीच में छोड़कर जाता हूं और कोई दूसरा बोलर आता है तो वह दो तीन छक्के इसी ओवर में खा जाएगा। जिससे पाकिस्तान के लिए यह मैच ही पर खत्म हो जाएगा। इसी देश प्रेम को देखते हुए आज उनकी इतनी तारीफ की जा रही है उन्होंने इस परिस्थिति में भी अपने देश के लिए खूब मेहनत से बोलिंग की।

नसीम शाह ने दिल जीता

नसीम शाह ने बोलिंग करते हुए महसूस किया कि उनकी कितनी जरूरत उनकी टीम को है क्योंकि उस समय पाकिस्तान की टीम के पास कोई ज्यादा ऑप्शन नहीं थे। उन्होंने यह भी नहीं सोचा कि मैं अगले मैच खेलूंगा या नहीं, इसीलिए वह चोटिल होने के बाद भी अपने अंदर जुनून और जज्बे लेकर के बोलिंग करते रहे इसी जुनून जज्बे को देखकर हर क्रिकेट प्रेमी आज उनको सैल्यूट कर रहा है।नसीम शाह आज पाकिस्तान के लिए एक स्टार खिलाड़ी बन गए हैं हालांकि भारत ने इस मैच में 5 विकेट से जीत दर्ज की लेकिन नसीम शाह ने सभी का दिल जीत लिया।