ऑस्ट्रेलिया के सफलतम कप्तान रिकी पोंटिंग ने विराट कोहली को क्रिकेट इतिहास का

ऑस्ट्रेलिया के सफलतम कप्तान रिकी पोंटिंग ने विराट कोहली को क्रिकेट इतिहास का

ऑस्ट्रेलिया के सफलतम कप्तान रिकी पोंटिंग ने विराट कोहली को क्रिकेट इतिहास का सर्वश्रेष्ठ व्हाइट बॉल बल्लेबाज बताया है। पोंटिंग ने कहा कि वनडे क्रिकेट में विराट के आंकड़े अद्भुत हैं। एकदिवसीय क्रिकेट में उन्होंने जो करके दिखाया है, वह अविश्वसनीय है। भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वॉर्म अप मैच खेल रहा था और रिकी पोंटिंग कमेंट्री बॉक्स में बैठकर अपने टीम की खिलाड़ियों की तारीफ करने की बजाय विराट के कसीदे पढ़ रहे थे। ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर कोहली का रिकॉर्ड ही इतना विराट है कि कोई भी उसके आगे नहीं ठहरता। यही वजह है कि अगर इस बार भारत को T-20 वर्ल्ड कप जीतना है तो विराट के तूफानी प्रदर्शन के बगैर यह मुमकिन नहीं होगा।

विराट ने ऑस्ट्रेलिया में 11 टी-20 मुकाबले खेले हैं और भारत की तरफ से सबसे ज्यादा 451 रन बनाए हैं। 64.42 की बेहतरीन औसत और 145 की स्ट्राइक रेट से ये रन आए हैं। जिस मेलबर्न में भारत पाकिस्तान के खिलाफ अपने वर्ल्ड कप अभियान की शुरुआत करेगा, वहां विराट ने 3 टी-20 मुकाबलों में 90 रन बनाया है। एक तूफानी अर्धशतक ठोक कर टीम इंडिया को मैच जिताया है।

हाल-फिलहाल पाकिस्तान के खिलाफ विराट का बल्ला जमकर बोला है। ऐसे में इंडियन क्रिकेट फैंस को यकीन है कि मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में मौजूद 90,000 दर्शकों के बीच फिर एक बार कोहली का विराट रूप नजर आएगा और वह पाक के खिलाफ ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करके दिखाएगा। भारत विश्व कप का अपना दूसरा मुकाबला क्वालीफायर वन की विजेता टीम से जिस सिडनी में खेलेगा, वहां 4 टी-20 मुकाबले खेलकर विराट ने 3 अर्धशतक लगाया है। 76.66 की औसत से शानदार 236 रन बनाया है। इस मैदान पर खेले गए 4 टी-20 मुकाबलों में से 3 में हिंदुस्तान को जीत दिलाया है। ऐसे में सिडनी में भी विराट से दमदार पारी की आस है।

ये भी पढ़ें  'फुटेज खो गया था' : पाइन ने एक बम गिराया, दक्षिण अफ्रीका पर कुख्यात केप टाउन टेस्ट के ठीक बाद गेंद से छेड़छाड़ का आरोप लगाया

अपने विश्व कप अभियान का तीसरा मुकाबला भारत पर्थ में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेलेगा। यहां पूरे ऑस्ट्रेलिया की तुलना में सबसे ज्यादा विकेट पर उछाल होती है। ऐसे में जो बल्लेबाज कट और पुल ठीक से खेल पाते हैं, वे यहां सफल हो जाते हैं। भारत ने पर्थ में अब तक कोई T-20 इंटरनेशनल मुकाबला तो नहीं खेला लेकिन किंग ने यहां 5 वनडे में 60.50 की औसत से 242 रन बनाए हैं। इस दौरान उसके बल्ले से 2 अर्धशतक आए हैं। यकीन है कि अफ्रीकी पेस अटैक की धज्जियां उड़ाएगा। विराट भारत को यह मुकाबला भी निश्चित जिताएगा।

सुपर- 12 का चौथा मुकाबला भारत 2 नवंबर को एडिलेड में बांग्लादेश के खिलाफ खेलेगा। यहां अब तक हिंदुस्तान ने केवल एक टी-20 मुकाबला खेला है, जिसमें किंग कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ताबड़तोड़ 90 रन बनाया था। भारत को 37 रन से मुकाबला जिताया था। तय मानो कि इस बार बांग्लादेश को भी नहीं छोड़ेगा। उसके तमाम गेंदबाजों को मारकर तोड़ेगा।

भारत लीग स्टेज का अपना आखिरी मुकाबला क्वालीफायर ग्रुप 2 की विजेता टीम से मेलबर्न में खेलेगा। हमने ऊपर बता ही दिया है कि वहां विराट सबसे सफल बल्लेबाज है। उसने गिराई तमाम गेंदबाजों पर गाज है। वैसे अगर ऑस्ट्रेलिया की बात करें तो वहां 29 वनडे मुकाबले खेल कर किंग ने 51.03 की औसत से 1327 रन बनाया है। इस दौरान 6 अर्थशतक और 5 शतक लगाया है। 13 टेस्ट मैचों में किंग के बल्ले से 1352 रन आया है। ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट क्रिकेट में 54.08 की दमदार एवरेज से खेलते हुए विराट ने 4 अर्धशतक और 6 शतक लगाया है।