मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा अहम फैसला, ED के इस्तेमाल पर भी हो सकती है बहस

मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा अहम फैसला, ED के इस्तेमाल पर भी हो सकती है बहस

नई दिल्ली। देश की सर्वोच्च अदालत सुप्रीमकोर्ट में आज प्रीवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट(PMLA) के कई प्रावधानों की संवैधानिकता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई होनी है। माना जा रहा है कि इसके बाद प्रवर्तन निदेशालय के अधिकार और हदें भी तय हो जाएंगी।

इतना ही नहीं पिछले कुछ वर्षो में मनी लॉन्ड्रिंग पर ईडी के इस्तेमाल को लेकर भी आज सुप्रीमकोर्ट में बहस हो सकती है। माना जा रहा है कि ईडी की शक्तियों, गिरफ्तारी के अधिकार, गवाहों को समन व संपत्ति जब्त करने के तरीके और जमानत प्रक्रिया को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला सुना सकता है।

मनी लॉन्ड्रिंग कानून के कई प्रावधानों के खिलाफ सुप्रीमकोर्ट में 00 से ज्यादा याचिकाएं दायर की गई हैं, जिस पर आज सुप्रीम कोर्ट अहम फैसला सुनाएगा। ये याचिकाएं कांग्रेस नेता कार्ति चिदंबरम, एनसीपी नेता अनिल देशमुख व अन्य की ओर से दायर की गई थीं।

इन याचिकाओं में कहा गया है पीएसएलए के कई प्रावधान असैंवधानिक हैं, क्योंकि संज्ञेय अपराध की जांच और ट्रायल के बारे में दी गई प्रक्रिया का पालन नहीं किया जाता है। याचिकाओं में कहा गया है कि जांच एजेंसी को जांच करते समय सीआरपीसी का पालन करने के लिए बाध्य होना चाहिए।

ये भी पढ़ें  सड़क हादसे में क्रिकेटर ऋषभ पंत बुरी तरह घायल, रेलिंग से टकराई BMW