रासी वैन डर डुसेन और तेम्बा बावुमा के सामने भारतीय टीम पस्त, आखिरी गेंद तक लड़े शार्दुल ठाकुर।

रासी वैन डर डुसेन और तेम्बा बावुमा के सामने भारतीय टीम पस्त, आखिरी गेंद तक लड़े शार्दुल ठाकुर।

रासी वैन डर डुसेन और तेम्बा बावुमा के सामने भारतीय टीम पस्त, आखिरी गेंद तक लड़े शार्दुल ठाकुर।1

9 जनवरी 2022 को इंडिया और साउथ अफ्रीका के बीच खेले गए पहले ODI मैच में एक नया कारनामा देखने को मिला। जिसमें साउथ अफ्रीका के दो बल्लेबाजों ने ही एक विशाल स्कोर खड़ा कर दिया।

दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों का स्कोर

दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों में रासी वैन डर डुसेन ने नाबाद 129 रन मात्र 96 गेंदों में ठोक डाले। वही तेम्बा बावुमा भी अपने शतक से नहीं चूके और उन्होंने 143 गेंदों में 102 रन ठोक डाले। लेकिन डिकॉक जल्दी ही पवेलियन लौट गए। उन्होंने 41 गेंदों में मात्र 27 रन बनाए। इसी के साथ साउथ अफ्रीका की टीम ने 50 ओवर में 296 रनों का एक विशाल स्कोर भारतीय टीम के सामने खड़ा कर दिया। जिसमें उन्होंने सिर्फ अपने 4 विकेट ही खोए। इसमें दो खिलाड़ियों ने शतक भी लगाए। उसके बाद डेविड मिलर नॉट आउट रहे उन्होंने 2 गेंदों में 2 रन बनाए।

भारतीय गेंदबाजों की सफलताएं और दिए गए रन

जसप्रीत बुमराह ने 10 ओवर में 48 रन देकर दो सफलताएं हासिल की। उसके बाद रविचंद्र अश्विन ने 10 ओवर में 53 रन देकर एक सफलता हासिल की। वही यूज़वेंद्र चहल को कोई सफलता हाथ नहीं लगी उन्होंने 10 ओवर में 53 रन दिए। शार्दुल ठाकुर की बात करें तो शार्दुल ठाकुर बल्लेबाजी में भी अंत तक लड़े और गेंदबाजी में थोड़े महंगे साबित हुए। शार्दुल ठाकुर ने 10 ओवर में 72 रन देकर 1 विकेट चटकाया। भुवनेश्वर कुमार को कोई सफलता हासिल नहीं मिली। उन्होंने 10 ओवर में 64 रन दिए।

भारतीय बल्लेबाजों का स्कोर

भारतीय बल्लेबाजों में 2 सलामी बल्लेबाज के एल राहुल और शिखर धवन ओपनिंग करने उतरे। इस समय के एल राहुल भारतीय टीम के कप्तान भी हैं। के एल राहुल ने पवेलियन का रास्ता जल्दी पकड़ लिया। के एल राहुल ने 17 गेंदों में मात्र 12 रन ही बनाए। वही शिखर धवन एक छोर पर डटे रहे और 84 गेंदों में 79 रन ठोक डाले। इसके बाद विराट कोहली भी अपने अर्धशतक से नहीं चूके विराट कोहली ने 63 गेंदों में 51 रनों की पारी खेली। लेकिन इस मैच को जीतने के लिए किसी एक बल्लेबाज का अंत तक टिके रहना जरूरी था। इसके बाद ऋषभ पंत भी 22 गेंदों में मात्र 16 रन बनाकर चल दिए। श्रेयस अय्यर ने 17 गेंदों में मात्र 17 रन ही बनाए। इसके बाद युवा ऑल राउंडर वेंकटेश अय्यर 7 गेंदों में मात्र 2 रन बनाकर अपना कैच बाउंड्री पर थमा बैठे। बाद में रविचंद्र अश्विन भी 13 गेंदों में 7 रन बनाकर पीछे-पीछे पवेलियन की तरफ चल दिए। इसके बाद शार्दुल ठाकुर अकेले ही लड़ते रहे। शार्दुल ठाकुर ने हाफ सेंचुरी ठोक डाली। उन्होंने 43 गेंदों में 50 रन बनाए, बाद में इन्हीं का साथ दे रहे जसप्रीत बुमराह ने 23 गेंदों में 14 रनों की पारी खेलकर नॉट आउट रहे। इस तरह भारत ने अपने 8 विकेट के नुकसान पर 265 रनों का लक्ष्य ही प्राप्त किया।

ये भी पढ़ें  एक बार फिर डेविड मिलर साबित हुए बादशाह,

साउथ अफ्रीका गेंदबाजों की सफलताएं और दिए गए रन

साउथ अफ्रीका के गेंदबाजों ने भी अपना जलवा बरकरार रखा। सबसे पहले एडन मार्क्रम की बात करें जिन्होंने के एल राहुल को फसाया। इन्होंने 6 ओवर में 30 रन देकर एक सफलता हासिल की दूसरे नंबर पर मार्को ने 9 ओवर में 49 रन दिए और कोई सफलता हासिल नहीं की। इसके बाद केशव महाराज ने 10 ओवर में मात्र 42 रन देकर एक सफलता हासिल की और लूंगी निगड़ी ने 10 ओवर में 64 रन देकर दो सफलताएं हासिल की वही तबरेज़ शम्सी ने 10 ओवर डालकर मात्र 52 रन दिए और दो सफलताएं हासिल की और एनडीली ने मात्र 5 ओवर में 26 रन देकर दो सफलताएं हासिल की। इस तरह भारत ने अपने 8 विकेट गवा दिए। और भारत को 31 रनों से मैच हरा दिया। यही रासी वैन डर डुसेन मैन ऑफ द मैच रहे। रासी वैन डर डुसेन और तेम्बा बावुमा के सामने भारतीय गेंदबाजों के हौसले पस्त हो गए।

आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगे तो पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *